Nigah E Naz Ke Lyrics In Hindi And English - Barsaat Ki Raat | Suman Kalyanpur & Kamal Barot

Nigah E Naz Ke lyrics in Hindi and English. Nigah E Naz Ke song is sung by the Suman Kalyanpur & Kamal Barot, lyrics by Sahir Ludhianvi and, music is given by Roshan. निगाहें नाज़ के song is from Barsaat Ki Raat movie, starring Madhubala, Bharat Bhushan, Shyama & Chandrashekhar.

Song Credit
Song Title : Nigah E Naz Ke
Lyrics : Sahir Ludhianvi
Singer : Suman Kalyanpur & Kamal Barot
Music : Roshan
Music On : Saregama
Movie : Barsaat Ki Raat

Nigah E Naz Ke Lyrics In English And Hindi

Nigah E Naz Ke Lyrics In English

Adaa Bijali Badan Sholaa
Adaa Bijali Badan Sholaa
Bhanve Khajar Nazar Qaatil

Galat Kya Hai Hame
Kahati Hai Ye Duniya
Agar Qaatilto Phir

Nigaahe Naaz Ke
Oye Nigaahe Naaz Ke
Ha Ha Nigaahe Naaz Ke
Ho Ho Nigaahe Naaz Ke

Maaro Kaa Haal Kya Hoga
Nigaahe Naaz Ke
Maaro Kaa Haal Kya Hoga
Nigaahe Naaz Ke..

Nigaahe Naaz Ke Maaro
Kaa Haal Kya Hoga
Na Bach Sake To Ha Ha Na
Bach Sake To Na Bach Sake To

Na Bach Sake To Na Bach
Sake To Haay Na Bach Sake To
Bechaaro Kaa Haal Kya
Hoga Na Bach Sake To

Bechaaro Kaa Haal Kya
Hoga Kya Hoga Kya Hoga
Nigaahe Naaz Ke..

Hami Ne Ishq Ke Qaabil
Banaa Diyaa Hai Tumhe
Hami Ne Ishq Ke Qaabil
Banaa Diyaa Hai Tumhe

Hami Ne Ishq Ke Zara
Dekho Hami Ne Ishq Ke
Zara Dekho Hami Ne Ishq Ke
Qaabil Banaa Diyaa Hai Tumhe

Hami Ne Ishq Ke Qaabil
Banaa Diyaa Hai Tumhe
Hami Na Ho To Hami Na
Ho To Hami Na Ho To

Hami Na Ho To Nazaaro
Kaa Haal Kya Hoga
Hami Na Ho To Nazaaro Kaa Haal
Kya Hoga Kya Hoga Kya Hoga
Hami Na Ho To..

Hamaare Husn Ki Bijali
Hamaare Husn Ki Bijali,
Hamaare Husn Ki Bijali
Chamakne Vaali Hai..

Hamaare Husn Ki Bijali
Chamakne Vaali Hai
Vaali Hai Vaali Hai Bijali
Chamakne Vaali Hai

Hamaare Husn Ki Bijali
Chamakne Vaali Hai
Na Jaane Aaj
Ha Ha Na Jane Aaj
Na Jane Aaj, Na Jane Aaj
Aaj Aaj Na Jane Aaj
Hazaro Kaa Haal Kya Hoga

Na Jane Aaj
Hazaro Kaa Haal Kya Hoga
Kya Hoga Kya Hoga Kya Hoga
Nigah Naz Ke..

Bahaare Husn Salamat
Khizaa Se Puchh Zara,
Bahaare Husn Salamat
Khizaa Se Puchh Zara,

Khizaa Se Puchh Zara
Khizaa Se Puchh Zara
Bahaare Husn Salamat
Khizaa Se Puchh Zara

Puchh Zara Puchh Zara
Ke Chaar Din Me Bahaaro
Kaa Haal Kya Hoga
Kya Hoga Kya Hoga
Ke Chaar Din Me

Rag Par Naaz Na Kar
Kyo Ki Rag Badal Jata Hai
Ye Vo Mahamaan Hai Jo
Aaj Aata Hai Kal Jata Hai

Ishq Par Naaz Kare Koi
To Kuchh Baat Bhi Hai
Husn Kaa Naaz Hi Kya
Husn To Dhal Jata Hai

Bahare Husn Salamat
Khizaa Se Puchh Zara
Ke Chaar Din Me Ke
Chaar Din Me Ke Chaar Din Me

Bahaaro Kaa Haal Kya
Hoga Ke Chaar Din Me

Ham Apne Chehare Se
Parda Utha To De Lekin
Ham Apne Chehare Se
Parda Utha To De Lekin

Ham Apne Ham Apne
Chehare Se Parada
Apne Chehare Se Parada
Apne Chehare Se Parada

Uthaa To De Lekin
Garib Chaand Garib Chaand
Chand Chand Garib Chaand
Sitaaro Kaa Haal Kya Hoga

Muqabla Hai To Phir
Der Kya Hai Tir Chala
Muqabla Hai To Phir
Der Kya Hai Tir Chala Muqabla
Hai Muqabla Hai Muqabla Hai
Muqabla Hai Muqabla Hai

Muqabla Hai To Phir
Der Kya Hai Tir Chala.

Nigah E Naz Ke Lyrics In Hindi

अदा बिजली बदन शोला
अदा बिजली बदन शोला
भानवे खजर नज़र कातिल

गलत क्या है हमें
कहती है ये दुनिया
अगर कातिल तो फिर

निगाहें नाज़ के
ओये निगाहें नाज़ के
हा हा निगाहें नाज़ के
हो हो निगाहें नाज़ के

मारो का हाल क्या होगा
निगाहें नाज़ के
मारो का हाल क्या होगा
निगाहें नाज़ के..

निगाहें नाज़ के मारो
का हाल क्या होगा
न बच सके तो हा हा न
बच सके तो न बच सके तो

न बच सके तो न बच
सके तो है न बच सके तो
बेचारों का हाल क्या
होगा न बच सके तो

बेचारों का हाल क्या
होगा क्या होगा क्या होगा
निगाहें नाज़ के..

हमी ने इश्क़ के क़ाबिल
बना दिया है तुम्हे
हमी ने इश्क़ के क़ाबिल
बना दिया है तुम्हे

हमी ने इश्क़ के ज़रा देखो
हमी ने इश्क़ के
ज़रा देखो हमी ने इश्क़ के
काबिल बना दिया है तुम्हे

हमी ने इश्क़ के क़ाबिल
बना दिया है तुम्हे
हमी न हो तो हमी न
हो तो हमी न हो तो

हमी न हो तो
नज़ारो का हाल क्या होगा
हमी न हो तो नज़ारो का हाल
क्या होगा क्या होगा क्या होगा
हमी न हो तो..

हमारे हुस्न की बिजली
हमारे हुस्न की बिजली,
हमारे हुस्न की बिजली
चमकने वाली है..

हमारे हुस्न की बिजली
चमकने वाली है
वाली है वाली है बिजली
चमकने वाली है

हमारे हुस्न की बिजली
चमकने वाली है
न जाने आज
हा हा न जाने आज
न जाने आज, न जाने आज
आज आज न जाने आज
हज़ारों का हाल क्या होगा

न जाने आज
हज़ारों का हाल क्या होगा
क्या होगा क्या होगा क्या होगा
निगाहें नाज़ के..

बहारे हुस्न सलामत
खिज़ा से पूछ ज़रा,
बहारे हुस्न सलामत
खिज़ा से पूछ ज़रा,

खिज़ा से पूछ ज़रा
खिज़ा से पूछ ज़रा
बहारे हुस्न सलामत
खिज़ा से पूछ ज़रा

पूछ ज़रा पुछ ज़रा
के चार दिन में बहारो
का हाल क्या होगा
क्या होगा क्या होगा
के चार दिन में

रैग पर नाज़ न कर
क्यों की रैग बदल जाता है
ये वो महमान है जो
आज आता है कल जाता है

इश्क़ पर नाज़ करे कोई
तो कुछ बात भी है
हुस्न का नाज़ ही क्या
हुस्न तो ढल जाता है

बहरे हुस्न सलामत
खिज़ा से पूछ ज़रा
के चार दिन में के
चार दिन में के चार दिन में

बहारो का हाल क्या
होगा के चार दिन में

हम अपने चेहरे से
पर्दा उठा तो दे लेकिन
हम अपने चेहरे से
पर्दा उठा तो दे लेकिन

हम अपने हम अपने
चेहरे से पर्दा
अपने चेहरे से पर्दा
अपने चेहरे से पर्दा

उठा तो दे लेकिन
गरीब चाँद गरीब चाँद
चाँद चाँद गरीब चाँद
सितारों का हाल क्या होगा

मुक़ाबला है तो फिर
देर क्या है तीर चला
मुक़ाबला है तो फिर
देर क्या है तीर चला मुक़ाबला
है मुक़ाबला है मुक़ाबला है
मुक़ाबला है मुक़ाबला है

मुक़ाबला है तो फिर
देर क्या है तीर चला.

We hope you like Nigah E Naz Ke lyrics. If you have any suggestions about Nigah E Naz Ke Lyrics, you can contact us. Don't forget to share these beautiful Nigah E Naz Ke lyrics in the voice of Suman Kalyanpur & Kamal Barot with your friends.

Previous Post Next Post